Breaking News:

पहचान : समाजसेवी विजय कुमार नौटियाल को उत्तराखंड गौरव सम्मान -

Saturday, December 15, 2018

कैबिनेट की मुहर : शिक्षकों के लिए 7वें वेतनमान को मंजूरी -

Friday, December 14, 2018

राफेल को लेकर राहुल गांधी ने झूठ फैलाने का किया कार्य : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, December 14, 2018

बर्फबारी के बाद केदारनाथ में मौसम हुआ साफ -

Friday, December 14, 2018

उत्तराखण्ड : सीएम एप से पहली बार बिजली से रोशन हुए कई दूरस्थ गाँव -

Friday, December 14, 2018

आईसीआईसीआई बैंक ने जोड़े ‘ईजीपे‘ पर 1.93 लाख से अधिक ग्राहक -

Friday, December 14, 2018

प्रेसवार्ता : लापता संत गोपालदास की बरामदगी न होने पर रोष -

Thursday, December 13, 2018

हाउस टैक्स को लेकर गामा और चमोली आमने सामने -

Thursday, December 13, 2018

उत्तराखंड : 22 आईपीएस अधिकारियों को समय से पहले हटाया गया -

Thursday, December 13, 2018

अजब गजब : जेठानी ने की नाबालिग के साथ शारीरिक शोषण -

Thursday, December 13, 2018

त्रिवेंद्र सरकार द्वारा आंगनबाङी कार्यकत्रियों को नए वर्ष की सौगात, जानिये खबर -

Thursday, December 13, 2018

बढ़ते अपराधों के बीच दूनवासी दहशत में , जानिए खबर -

Wednesday, December 12, 2018

14 दिसंबर को होगा ‘अपहरण’ सामने , जानिए खबर -

Wednesday, December 12, 2018

कुलपति सम्मेलन 20 दिसम्बर को राजभवन में -

Wednesday, December 12, 2018

दो मुंहा सांप के चक्कर में गए जेल , जानिए खबर -

Wednesday, December 12, 2018

फर्जी पीसीएस अधिकारी को पुलिस ने दबोचा -

Wednesday, December 12, 2018

केदारनाथ धाम में बर्फबारी, जानिए खबर -

Wednesday, December 12, 2018

छोटे राज्यों का भविष्य राष्ट्रीय दलों के हाथ में सुरक्षित नहींः रतूड़ी -

Wednesday, December 12, 2018

अधिकारियों व कार्मिकों को निरन्तर प्रशिक्षण की जरूरत , जानिए खबर -

Tuesday, December 11, 2018

एनआईटी मामला : हाईकोर्ट ने राज्य,एनआईटी और केंद्र सरकार को जवाब दाखिल करने को कहा -

Tuesday, December 11, 2018

डेस्टीनेशन उत्तराखण्ड होगा अंतरराष्ट्रीय व घरेलू निवेशकों के लिए उचित प्लेटफार्म

uk-cm

उत्तराखंड : प्रधानमंत्री करेंगे ‘इन्वेस्टर्स समिट 2018’’ का उद्घाटन

अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में आयोजित होने वाले ‘डेस्टिनेशन उत्तराखण्ड: इन्वेस्टर्स समिट 2018’ का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। मुख्य कार्यक्रम का आयोजन देहरादून के महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स स्टेडियम में किया जाएगा। समिट के लिए अभी 4 व 5 अक्टूबर की तिथि प्रस्तावित है। परंतु सम्भवतः 4 अक्टूबर को रूस के राष्ट्रपति भारत आएंगे। ऐसी स्थिति में समिट का मुख्य कार्यक्रम प्रधानमंत्री के समय के अनुसार एक-दो दिन आगे भी खिसक सकता है। आज मुख्यमंत्री आवास में आयेाजित संक्षिप्त कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इन्वेस्टर्स समिट के लिए ब्राण्ड लोगो व वेबसाईट www.destinationuttarakhand.in को लाॅन्च किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि डेस्टीनेशन उत्तराखण्ड अंतरराष्ट्रीय व घरेलू निवेशकों को उत्तराखण्ड में निवेश के लिए प्लेटफार्म उपलब्ध कराएगा। इसमें दुनियाभर से निवेशक, निर्माता, उत्पादक, नीति निर्माता व औद्योगिक संगठन हिस्सा लेंगे। राज्य में निवेश से विभिन्न क्षेत्रो में स्थानीय युवाओं को बड़ी संख्या में रोजगार मिलेगा। इससे राज्य के उद्यमियों को भी अवसर मिलेंगे।  मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में बाहर से आने वाले निवेशकर्ताओं के साथ स्थानीय उद्यमियों का टाई-अप कराया जाना चाहिए। इससे दोनों ही लाभान्वित होंगे। उन्होंने आशा व्यक्त की कि राज्य के युवा उद्यमी भी आगे आएंगे और प्रदेश में इनोवेशन व उद्यमशीलता को बढ़ावा मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार राज्य में निवेश अनुकूल माहौल बनाने के लिए लगातार प्रयासरत है। हम ईज आॅफ डूईंग बिजनेस में हिमालयी राज्यों में पहले स्थान पर हैं। अन्य राज्यों में भी अच्छी रैंक पर हैं। हमारे यहां सिंगल विंडो सिस्टम, प्रभावी रूप से संचालित है। कानून व्यवस्था की स्थिति काफी बेहतर है। पिछले समय में बिजली की उपलब्धता बढ़ी है जबकि दरें लगभग सभी मदों में उत्तर भारत के अन्य राज्यों से कम है। राज्य में स्किल्ड श्रम की उपलब्धता अधिक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस प्रकार देहरादून में अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव का आयोजन प्रधानमंत्री जी की गरिमामयी उपस्थिति में सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ और यहां से देश विदेश में योग का संदेश गया था। उसी प्रकार अक्टूबर का इन्वेस्टर्स समिट भी प्रधानमंत्री जी के सान्निध्य में सफलतापूर्वक आयोजित होगा। यहां चिन्हित 12 क्षेत्रों में लक्ष्य के अनुरूप निवेश होगा। आने वाले समय में उत्तराखण्ड निवेशकों के लिए पसंदीदा गंतव्य बन कर उभरेगा।

निवेशकों को आकर्षित करने के लिए निवेश के लिए 12 मुख्य क्षेत्रो को चिन्हित किया

आयुक्त उद्योग सौजन्या ने बताया कि निवेशकों को आकर्षित करने के लिए निवेश के लिए 12 मुख्य क्षेत्रो को चिन्हित किया गया है। इनमें खाद्य प्रसंस्करण, हाॅर्टीकल्चर, हर्बल व एरोमेटिक, पर्यटन, वैलनेस एवं आयुष, फार्मास्युटिकल्स, आॅटोमोबाईल्स, सेरीकल्चर एवं प्राकृतिक फाइबर, आईटी, नवीकरणीय ऊर्जा, जैव प्रोद्यौगिकी व फिल्म शूटिंग शामिल हैं। इन्वेस्टर्स समिट से पूर्व निवेशकों को आकर्षित करने के लिए अनेक मिनी कान्क्लेव व रोड़ शो आयोजित किए जाएंगे। आुयष, आयुर्वेद, हर्बल, एरोमेटिक व फार्मा पर 12 जुलाई को हरिद्वार में मिनी कान्क्लेव आयोजित किया जा चुका है। जबकि 7 अगस्त को टिहरी में पर्यटन व वैलनेस, 10 अगस्त को भीमताल (नैनीताल) में फिल्म शूटिंग व पर्यटन, 11 अगस्त को रूद्रपुर में खाद्य प्रसंस्करण व आॅटोमोबाईल पर मिनी कान्क्लेव आयेाजित किए जा रहे हैं। इसी प्रकार रोड़ शो का आयोजन 22 अगस्त को बैंगलुरू, 23 अगस्त को हैदराबाद, 24 अगस्त को अहमदाबाद, 29 अगस्त को मुम्बई व 30 अगस्त को नई दिल्ली में किया जाएगा। 30 अगस्त को ही नई दिल्ली में विभिन्न देशों के राजदूतों के साथ राउन्ड टेबिल वार्ता की जाएगी। समिट में प्रतिभाग करने के लिए www.destinationuttarakhand.in वेबसाईट पर रजिस्ट्रेशन 15 अगस्त से प्रारम्भ हो जाएंगे।

फूलों की घाटी से प्रेरित है लोगो

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र द्वारा ‘डेस्टिनेशन उत्तराखण्ड: इन्वेस्टर्स समिट 2018’ का लाॅन्च किया गया लोगो, फूलों की घाटी से प्रेरित है। इसमें उगते सूरज का चित्रण किया गया है जो कि उत्तराखण्ड में उभरते अवसरों व ओद्यौगिक विकास को बताता है। समिट के लिए चिन्हित किए गए 12 क्षेत्रों को इसमें 12 फूलों की रंगबिरंगी पत्तियों के रूप में दर्शाया गया है।  कार्यक्रम में विधायक  गणेश जोशी, सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर, निदेशक उद्योग  सुधीर नौटियाल सहित अन्य अधिकारी व उद्यमी मौजूद थे।

Leave A Comment