Breaking News:

उत्तराखंड पुलिस ने किया मांउण्ट एवरेस्ट फतह, मुख्यमंत्री ने दी बधाई -

Sunday, May 20, 2018

पीएम मोदी कल करेंगे राष्ट्रपति पुनित के साथ बैठक -

Sunday, May 20, 2018

दिल्ली ने मुंबई इंडियंस को 11 रनों से हराया, मुंबई प्लेऑफ से बाहर -

Sunday, May 20, 2018

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमला, आईईडी ब्लास्ट में 6 जवान शहीद -

Sunday, May 20, 2018

रोजा तोड़कर बचाई जान जानिए ख़बर -

Sunday, May 20, 2018

आने वाली पीढ़ियों के लिये रिस्पना को बचाने का प्रयास : सीएम -

Saturday, May 19, 2018

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर प्लेऑफ की दौड़ से बाहर जानिए ख़बर -

Saturday, May 19, 2018

मुख्यमंत्री मोबाइल एप पर शिकायत और मैड मल्ला और तल्ला गाँव के लिए पहुंचा पीने का पानी। -

Saturday, May 19, 2018

फिल्म ‘लस्ट स्टोरीज’ का ट्रेलर हुआ रिलीज -

Saturday, May 19, 2018

पीएम मोदी ने जोजिला सुरंग का किया शिलान्यास, एशिया की सबसे लंबी सुरंग -

Saturday, May 19, 2018

अफगानिस्तान की क्रिकेट टीम देहरादून पहुंची, तीन जून को पहला मैच -

Saturday, May 19, 2018

उत्तराखण्ड में विभिन्न क्षेत्रों में निवेश की अपार सम्भावनाएं : अनूप -

Friday, May 18, 2018

कल श्रीनगर जाएंगे पीएम मोदी -

Friday, May 18, 2018

रिस्पना नदी के पुनर्जीवीकरण हेतु अभियान में सभी दे साथ : सीएम -

Friday, May 18, 2018

कीर्ति व कृष्णा बने मिस्टर एंड मिस नाॅर्थ इंडिया ग्लैम हंट -

Friday, May 18, 2018

चार धाम ऑल वेदर रोड निर्माण कार्यो की हुई समीक्षा -

Friday, May 18, 2018

फिल्म ‘नक्काश’ का पोस्टर लॉन्च -

Friday, May 18, 2018

येदियुरप्पा कल साबित करेंगे बहुमत -

Friday, May 18, 2018

हक की लड़ाई : शीला रावत के समर्थन में अनेक समाजिक एवम राजनीतिक संगठन आये आगे -

Thursday, May 17, 2018

मिशन रिस्पना सरकारी आयोजन नही बल्कि महा जन अभियान है : सीएम -

Thursday, May 17, 2018

दिल्ली के नमन और देहरादून के सुमित समेत 25 बच्चो को मिला वीरता सम्मान

kids

नरेंद्र मोदी आज बच्चों राष्ट्रीय बाल वीरता सम्मान दिया | सम्मान पाने वालों में 13 लड़के और 12 लड़कियां हैं। 4 बच्चों को मरणोपरांत ये पुरस्कार दिया गया। जहां नमन 7 साल के बच्चे को बचाने के लिए 12 फीट गहरे पानी में कूद गए वही सुमित ममगई भाई को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ गया | अमन दिल्ली के पीतमपुरा में रहते हैं। क्या हुआ था उस दिन: घटना हरियाणा के सोनीपत की है। नमन अपनी रिश्तेदारी में गया हुआ था। नमन के मुताबिक, ” उस दिन काफी गर्मी थी मैं अपने भाई के साथ नहर में नहाने जा रहा था। तभी मैने देखा कि एक 7 साल का बच्चा पानी में डूब रहा है। उसके मुंह में पानी भर गया था। मुझे बचपन से ही तैरना आता है। मैं तुरंत पानी में कूद गया। पानी करीब 12 फीट गहरा था। मैने बच्चे को पकड़ा और किसी तरह से किनारे पर लाया और उसके अंदर से पानी निकाला। भगवान का शुक्र था कि वह बच गया। सुमित उत्तराखंड के देहरादून में रहते हैं। क्या हुआ था उस दिन: सुमित ने बताया, “मैं और मेरा भाई (18 साल ) जानवरों का चारा लेने के लिए खेत गये हुए थे। पहले से ही तेंदुआ झाड़ियों में छिप कर बैठा था। जैसे ही हमने चारा काटना शुरू किया उसने मेरे भाई के पर हमला कर दिया। भाई पर हमला होने पर मैंने सोचा कि अगर वो भाई को खा गया तो घर जाकर क्या कहूंगा?” “मैने सोचा जिएंगे तो दोनों भाई, मरेंगे तो दोनों भाई। मैने अपनी पाठन (चारा काटने वाला औजार) से तेंदुए के पर कई हमले किए। तेंदुआ बहुत ताकतवर था उसने मुझ पर भी हमला कर दिया।” सुमित के मुताबिक, “मैं डरा नहीं और लगातार उस पर हमला करता रहा। इसलिए वो हमें छोड़ कर भाग गया।” सुमित के पिता सुरेश दत्त ममगई का कहना है- “जब बच्चों ने घर आकर इस घटना के बारे में बताया तो हमें यकीन नहीं हुआ कि ये बच्चे तेंदुए से भिड़ कर आए हैं।” लेकिन जब डॉक्टर्स ने बताया कि इनके जो जख्म है वो गुलदार के काटने के ही है, तब हमें यकीन हुआ। सुमित की बहादुरी की वजह से ही मेरे बड़े बेटे की जिंदगी बच पाई।”

Leave A Comment