Breaking News:

उत्तराखण्ड के सभी विधायकों ने शहीदों के परिवार को एक माह का वेतन देने की घोषणा की -

Friday, February 15, 2019

दुःख की इस घड़ी में हम सब शहीदों के परिजनों के साथ हैः मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र -

Friday, February 15, 2019

गरीब बच्चों को भोजन कराकर रोटी क्लब ने मनाया रोटी महोत्सव -

Friday, February 15, 2019

सीएम ने की स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट योजनाओं की समीक्षा -

Friday, February 15, 2019

कोई शिकायत तो डायल करें सीएम हेल्पलाईन 1905 -

Friday, February 15, 2019

भारत बनेगा विश्व गुरू : नरेश बंसल -

Friday, February 15, 2019

CRPF के काफिले पर आतंकी हमला, 40 जवान शहीद -

Thursday, February 14, 2019

रूद्रपुर में हुआ 3340 करोड़ रू. की समेकित सहकारी विकास परियोजना का शुभारम्भ -

Thursday, February 14, 2019

पीएम मोदी का विरोध करने जा रहे पूर्व सीएम हरीश रावत, इंदिरा हृदयेश गिरफ्तार -

Thursday, February 14, 2019

सीएम त्रिवेन्द्र की सलाह : निजी चीनी मिलों के बाहर धरना दे हरीश रावत -

Thursday, February 14, 2019

आयकर आयुक्त श्वेताभ सुमन को सात साल कैद , जानिए खबर -

Thursday, February 14, 2019

विपक्ष ने किया गन्ना किसानों के बकाया भुगतान को लेकर सदन में जमकर हंगामा -

Thursday, February 14, 2019

“डेस्टिनेशन उत्तराखण्ड” के प्रभावी नतीजे आने शुरू, जानिए खबर -

Wednesday, February 13, 2019

‘भारत’ के क्लाइमेक्स में 10 करोड़ का सेट बर्बाद -

Wednesday, February 13, 2019

समाजसेवी एवं उद्योगपति सुशील अग्रवाल हुए सम्मानित -

Wednesday, February 13, 2019

बड़ी खबर : उत्तराखण्ड में खुलेगी नेशनल लाॅ यूनिवर्सिटी -

Wednesday, February 13, 2019

सी-विजिल एप से आसानी से कर सकेंगे आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत, जानिये खबर -

Wednesday, February 13, 2019

चारधाम यात्रा की तैयारियों को लेकर प्रशासन हुआ चुस्त -

Wednesday, February 13, 2019

200 करोड़ लागत की मसूरी पेयजल योजना को केन्द्र से मिली मंजूरी -

Wednesday, February 13, 2019

राजभवन कूच कर रहे अधिवक्ताओं को पुलिस ने रोका -

Wednesday, February 13, 2019

दिल्ली के नमन और देहरादून के सुमित समेत 25 बच्चो को मिला वीरता सम्मान

kids

नरेंद्र मोदी आज बच्चों राष्ट्रीय बाल वीरता सम्मान दिया | सम्मान पाने वालों में 13 लड़के और 12 लड़कियां हैं। 4 बच्चों को मरणोपरांत ये पुरस्कार दिया गया। जहां नमन 7 साल के बच्चे को बचाने के लिए 12 फीट गहरे पानी में कूद गए वही सुमित ममगई भाई को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ गया | अमन दिल्ली के पीतमपुरा में रहते हैं। क्या हुआ था उस दिन: घटना हरियाणा के सोनीपत की है। नमन अपनी रिश्तेदारी में गया हुआ था। नमन के मुताबिक, ” उस दिन काफी गर्मी थी मैं अपने भाई के साथ नहर में नहाने जा रहा था। तभी मैने देखा कि एक 7 साल का बच्चा पानी में डूब रहा है। उसके मुंह में पानी भर गया था। मुझे बचपन से ही तैरना आता है। मैं तुरंत पानी में कूद गया। पानी करीब 12 फीट गहरा था। मैने बच्चे को पकड़ा और किसी तरह से किनारे पर लाया और उसके अंदर से पानी निकाला। भगवान का शुक्र था कि वह बच गया। सुमित उत्तराखंड के देहरादून में रहते हैं। क्या हुआ था उस दिन: सुमित ने बताया, “मैं और मेरा भाई (18 साल ) जानवरों का चारा लेने के लिए खेत गये हुए थे। पहले से ही तेंदुआ झाड़ियों में छिप कर बैठा था। जैसे ही हमने चारा काटना शुरू किया उसने मेरे भाई के पर हमला कर दिया। भाई पर हमला होने पर मैंने सोचा कि अगर वो भाई को खा गया तो घर जाकर क्या कहूंगा?” “मैने सोचा जिएंगे तो दोनों भाई, मरेंगे तो दोनों भाई। मैने अपनी पाठन (चारा काटने वाला औजार) से तेंदुए के पर कई हमले किए। तेंदुआ बहुत ताकतवर था उसने मुझ पर भी हमला कर दिया।” सुमित के मुताबिक, “मैं डरा नहीं और लगातार उस पर हमला करता रहा। इसलिए वो हमें छोड़ कर भाग गया।” सुमित के पिता सुरेश दत्त ममगई का कहना है- “जब बच्चों ने घर आकर इस घटना के बारे में बताया तो हमें यकीन नहीं हुआ कि ये बच्चे तेंदुए से भिड़ कर आए हैं।” लेकिन जब डॉक्टर्स ने बताया कि इनके जो जख्म है वो गुलदार के काटने के ही है, तब हमें यकीन हुआ। सुमित की बहादुरी की वजह से ही मेरे बड़े बेटे की जिंदगी बच पाई।”

Leave A Comment