Breaking News:

प्रत्येक व्यक्ति को अपनी सुविधा और कौशल के अनुसार व्यवसाय चयन करने का रोजगार प्रदान करने का अवसर : मदन कौशिक -

Friday, July 10, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3373, आज कुल 68 नए मरीज मिले -

Friday, July 10, 2020

विकास दुबे पुलिस मुठभेड़ में ढेर, जानिए खबर -

Friday, July 10, 2020

उत्तरांचल पंजाबी महासभा द्वारा कोमल वोहरा को महानगर महिला मोर्चा का अध्यक्ष चुना गया -

Friday, July 10, 2020

देहरादून : सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने व मास्क ना पहनने पर 21 लोगों का चालान -

Friday, July 10, 2020

जरा हटके : 300 वर्ष पुरानी वोगनबेलिया की बेल पेड़ सहित टूटी -

Friday, July 10, 2020

उत्तरांचल पंजाबी महासभा के प्रतिनिधिमंडल ने भेंट की फेस मास्क व फेस शील्ड -

Thursday, July 9, 2020

उत्तराखंड : विश्वविद्यालय स्तर पर अन्तिम वर्ष एवं अन्तिम सेमेस्टर की परीक्षायें 24 अगस्त से 25 सितम्बर -

Thursday, July 9, 2020

गफूर बस्ती के लोगों के उत्पीड़न पर अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग सख्त, जानिए खबर -

Thursday, July 9, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3305, आज कुल 47 नए मरीज मिले -

Thursday, July 9, 2020

प्रधानमंत्री द्वारा ‘वोकल फाॅर लोकल एंड मेक इट ग्लोबल’ के लिए किए गए आह्वान को सभी देशवासियों का मिला समर्थन : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, July 9, 2020

‘देसी गर्ल’ फिर नज़र आएगी हॉलीवुड फ़िल्म में , जानिए खबर -

Thursday, July 9, 2020

कानपुर का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार, जानिए खबर -

Thursday, July 9, 2020

दुःखद : भारी बारिश के चलते ढहा मकान, मां व दो बेटियों की मौत -

Thursday, July 9, 2020

उत्तराखंड : अपराधियों की एंट्री पर लगेगी रोक -

Thursday, July 9, 2020

उत्तराखंड राज्य कैबिनेट बैठक : लिए गए कई अहम फैसले, जानिए खबर -

Wednesday, July 8, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3258, आज कुल 28 नए मरीज मिले -

Wednesday, July 8, 2020

दुःखद : फिल्मी कलाकार अशोक मल्ल का हुआ निधन -

Wednesday, July 8, 2020

भोजपुरी एक्ट्रेस ने कहा कर लूंगी आत्महत्या , पुलिस आयी हरकत में, जानिए खबर -

Wednesday, July 8, 2020

अक्षय कुमार फिल्म की शूटिंग अगस्त से करेंगे शुरू, जानिए खबर -

Wednesday, July 8, 2020

देहरादून : जीपीएस आराघर स्कूल में पेंटिंग कार्यक्रम का आयोजन

देहरादून । बच्चों के समय का बड़ा हिस्सा स्कूल में पढाई करते हुए क्लासरूम में बीतता हैं। स्कूल या क्लासरूम ही ऐसी जगह हैं जहां वे अपने कौशल के विकास के साथ-साथ, अपने साथियों के साथ मिलकर जीवन मूल्यों को विकसित करतें हैं। स्कूल में ही वे अपने व्यक्तित्व का निर्माण करते हैं, जो उन्हें बाद में समाज के साथ मिलझुल कर रहने और समाज में प्रतिष्ठा पाने में मदद करता हैं। स्कूल एक बच्चे के समग्र विकास में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं, तब ये जरुरी हो जाता है की स्कूल के वातावरण को दोस्ताना बनाया जाएँ और बच्चों को मजेदार गतिविधिओं के माध्यम से जरुरी चीजें सिखाया जाएँ।  स्कूल में सीखने के तरीकों को सुखद और प्रभावशाली बनाने के लिए, हनीवेल सेफ स्कूल्स प्रोग्राम के तहत सीड्स ने देहरादून के जीपीएस आराघर स्कूल में पेंटिंग के कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सीड्स टीम के सदस्यों और हनीवेल इंडिया के वालंटियर्स ने पीले, हरे और नीले रंगों में स्कूल को पेंट किया। मनोवैज्ञानिको का कहना है की पीला ,हरा, और नीला रंग आंखों को भाता है और ये रंग एक खुश -नुमा माहौल बनाने में मददगार होता हैं। दिवारों को पेंट करने के कारण स्कूल को पूरी तरह से एक नया रूप मिल गया। स्कूल को रंगने में मदद करने के लिए हनीवेल इंडिया और सीड्स के 32 वालंटियर्स ने इस काम में अपना योगदान दिया।स्कूल की प्रिंसिपल, सुश्री लक्ष्मी ढौंडियाल, स्कूल को नया रूप देने के लिए वालंटियर्स ने जिस उत्साह  के साथ काम किया उसे देखकर रोमांचित हो गईं और उन्होंने आगे आकर स्कूल के लिए कार्य करने के लिए की सराहना की। उन्हें इस बात की खुशी थी की अब बच्चों के पास पढ़ने के लिए एक खुशनुमा और नया माहौल होगा। वालंटियर्स ने मौसम की परवाह नहीं करते हुए बड़ी संख्या में भाग लेकर स्कूल को एक नया रूप दिया। ज्यादातर वालंटियर्स ने ये महसूस किया की ये नया कलर-फुल वातावरण युवा बच्चों को अपनी रचनात्मकता बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित करेगा। स्कूल को कलर करते वक्त वोलन्टीयर्स के बीच उत्सव जैसा माहौल था। अपने लिए आंवटित कार्य को करते हुए वे बहुत खुश थे। कार्यक्रम के अंत में स्कूल के प्रिंसिपल और टीचर्स ने स्कूल को नया कलर-फूल रूप देने के लिए वालंटियर्स के प्रयासों की सराहना की।

Leave A Comment