Breaking News:

उत्तरांचल पंजाबी महासभा के प्रतिनिधिमंडल ने भेंट की फेस मास्क व फेस शील्ड -

Thursday, July 9, 2020

उत्तराखंड : विश्वविद्यालय स्तर पर अन्तिम वर्ष एवं अन्तिम सेमेस्टर की परीक्षायें 24 अगस्त से 25 सितम्बर -

Thursday, July 9, 2020

गफूर बस्ती के लोगों के उत्पीड़न पर अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग सख्त, जानिए खबर -

Thursday, July 9, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3305, आज कुल 47 नए मरीज मिले -

Thursday, July 9, 2020

प्रधानमंत्री द्वारा ‘वोकल फाॅर लोकल एंड मेक इट ग्लोबल’ के लिए किए गए आह्वान को सभी देशवासियों का मिला समर्थन : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, July 9, 2020

‘देसी गर्ल’ फिर नज़र आएगी हॉलीवुड फ़िल्म में , जानिए खबर -

Thursday, July 9, 2020

कानपुर का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार, जानिए खबर -

Thursday, July 9, 2020

दुःखद : भारी बारिश के चलते ढहा मकान, मां व दो बेटियों की मौत -

Thursday, July 9, 2020

उत्तराखंड : अपराधियों की एंट्री पर लगेगी रोक -

Thursday, July 9, 2020

उत्तराखंड राज्य कैबिनेट बैठक : लिए गए कई अहम फैसले, जानिए खबर -

Wednesday, July 8, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3258, आज कुल 28 नए मरीज मिले -

Wednesday, July 8, 2020

दुःखद : फिल्मी कलाकार अशोक मल्ल का हुआ निधन -

Wednesday, July 8, 2020

भोजपुरी एक्ट्रेस ने कहा कर लूंगी आत्महत्या , पुलिस आयी हरकत में, जानिए खबर -

Wednesday, July 8, 2020

अक्षय कुमार फिल्म की शूटिंग अगस्त से करेंगे शुरू, जानिए खबर -

Wednesday, July 8, 2020

खुशखबरी : चिकित्सकों के 763 रिक्त पदों पर सीधी भर्ती जल्द -

Tuesday, July 7, 2020

समिति ने तकनीकी कर्मचारियों के प्रति किये जा रहे भेद- भाव पर रोष जताया -

Tuesday, July 7, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3230, आज कुल 69 नए मरीज मिले -

Tuesday, July 7, 2020

कंगना ने मनाली की वादियों में मनाया पिकनिक, जानिए खबर -

Tuesday, July 7, 2020

23.52 करोड़ के समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए, जानिए खबर -

Tuesday, July 7, 2020

पिता नही,भूखे रहकर पढ़ाई की,अब मप्र की दसवीं की टॉपर, जानिए खबर -

Tuesday, July 7, 2020

नॉर्थ कोरिया न्यूक्लियर टेस्ट रोकने को तैयार

साउथ कोरिया और नॉर्थ कोरिया के बीच रिश्ते सुधारने की कोशिशें जारी हैं। इसी के तहत उत्तर कोरिया का एक डेलिगेशन मंगलवार को पहली बार तानाशाह किम जोंग-उन से मिला। मीटिंग में दोनों के बीच अगले महीने बातचीत पर सहमति बन गई है। खास बात यह रही कि इस 5 सदस्यीय डेलिगेशन का स्वागत किम जोंग ने खुद किया। साउथ कोरिया लौटने के बाद डेलिगेशन ने दावा किया कि अमेरिका से बातचीत के लिए किम अपने न्यूक्लियर टेस्ट्स पर रोक लगाने के लिए तैयार है। बता दें कि न्यूक्लियर और मिसाइल टेस्ट्स को लेकर अमेरिका और यूएन ने नॉर्थ कोरिया पर कई कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाए हैं। नॉर्थ कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (KCNA) के मुताबिक, साउथ कोरियाई डेलिगेशन से मुलाकात में किम ने जोर देते हुए कहा कि वो दोनों देशों को फिर से साथ लाकर एक नया इतिहास बनाना चाहता है। वहीं डेलिगेशन ने बताया कि तानाशाह अप्रैल में दोनों देशों के बीच एक शिखर सम्मेलन रखने पर राजी हो गया है। मीटिंग में नॉर्थ-साउथ के बीच रिश्ते मजबूत करने और कोरियाई प्रायद्वीप में शांति स्थापित करने पर बात हुई। इसके अलावा सियोल डेलिगेशन ने किम को राष्ट्रपति मून जेइ-इन का पर्सनल लेटर भी सौंपा। बता दें कि साउथ कोरिया के राष्ट्रपति पिछले काफी वक्त से नॉर्थ कोरिया से बातचीत शुरू करने की वकालत करते आ रहे हैं। पिछले 7 साल में यह पहला मौका है कि साउथ कोरिया के अधिकारी किम जोंग-उन से सीधे तौर पर मिले हैं। किम जोंग-उन अपने पिता किम जोन-इल की मौत के बाद 2011 में सत्ता में आए थे। तभी से दोनों के बीच रिश्ते बेहतर नहीं रहे। कोरियाई प्रायाद्वीप में लगातार बिगड़ते हालातों के मद्देनजर ये पहली बार है कि नॉर्थ कोरिया लगातार अपनी छवि सुधारने की कोशिश कर रहा है। इसी साल साउथ कोरिया में हुए विंटर ओलिंपिक में नॉर्थ और साउथ कोरिया की टीमों ने एक झंडे के नीचे हिस्सा लिया था। तानाशाह ने अपनी बहन किम यो जोंग को भेजकर दोनों देशों के बीच तल्खी कम करने की कोशिश भी की थी। इन्हीं कोशिशों के चलते साउथ कोरिया के प्रेसिडेंट मून जेई-इन ने बीते हफ्ते अपना डेलीगेशन नॉर्थ कोरिया भेजने की बात कही थी।

Leave A Comment