Breaking News:

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमला, आईईडी ब्लास्ट में 6 जवान शहीद -

Sunday, May 20, 2018

रोजा तोड़कर बचाई जान जानिए ख़बर -

Sunday, May 20, 2018

आने वाली पीढ़ियों के लिये रिस्पना को बचाने का प्रयास : सीएम -

Saturday, May 19, 2018

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर प्लेऑफ की दौड़ से बाहर जानिए ख़बर -

Saturday, May 19, 2018

मुख्यमंत्री मोबाइल एप पर शिकायत और मैड मल्ला और तल्ला गाँव के लिए पहुंचा पीने का पानी। -

Saturday, May 19, 2018

फिल्म ‘लस्ट स्टोरीज’ का ट्रेलर हुआ रिलीज -

Saturday, May 19, 2018

पीएम मोदी ने जोजिला सुरंग का किया शिलान्यास, एशिया की सबसे लंबी सुरंग -

Saturday, May 19, 2018

अफगानिस्तान की क्रिकेट टीम देहरादून पहुंची, तीन जून को पहला मैच -

Saturday, May 19, 2018

उत्तराखण्ड में विभिन्न क्षेत्रों में निवेश की अपार सम्भावनाएं : अनूप -

Friday, May 18, 2018

कल श्रीनगर जाएंगे पीएम मोदी -

Friday, May 18, 2018

रिस्पना नदी के पुनर्जीवीकरण हेतु अभियान में सभी दे साथ : सीएम -

Friday, May 18, 2018

कीर्ति व कृष्णा बने मिस्टर एंड मिस नाॅर्थ इंडिया ग्लैम हंट -

Friday, May 18, 2018

चार धाम ऑल वेदर रोड निर्माण कार्यो की हुई समीक्षा -

Friday, May 18, 2018

फिल्म ‘नक्काश’ का पोस्टर लॉन्च -

Friday, May 18, 2018

येदियुरप्पा कल साबित करेंगे बहुमत -

Friday, May 18, 2018

हक की लड़ाई : शीला रावत के समर्थन में अनेक समाजिक एवम राजनीतिक संगठन आये आगे -

Thursday, May 17, 2018

मिशन रिस्पना सरकारी आयोजन नही बल्कि महा जन अभियान है : सीएम -

Thursday, May 17, 2018

केदारनाथ धाम का लेजर शो अब दूरदर्शन पर भी जानिए ख़बर -

Thursday, May 17, 2018

येदियुरप्पा ने ली कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ -

Thursday, May 17, 2018

फिल्मों की शूटिंग की अपार संभावनाएं उत्तराखण्ड में : रमेश सिप्पी -

Thursday, May 17, 2018

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा लिया

kedar

बुधवार अपराह्न साढ़े तीन बजे प्रधानमंत्री मोदी पीएमओ से वीडियो कांफ्रेंसिंग से सीधे सभी राज्यों के मुख्य सचिवों से जुड़े। सबसे पहले उत्तराखंड के मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने उन्हें केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्यों की जानकारी दी। इसके कुछ देर बाद मोदी ने ड्रोन से निर्माण कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने मुख्य सचिव से पूछा कि मंदिर के चबूतरे का कितना विस्तार हुआ। सिंह ने कहा कि 1500 वर्ग मीटर से बढ़ाकर अब इसे 4125 वर्ग मीटर कर दिया है। फर्श पर पत्थर बिछाने का कार्य चल रहा है। मोदी ने पूछा कि क्या सरस्वती नदी में जाने का रास्ता ठीक हो गया। मुख्य सचिव ने कहा कि बर्फ पड़ी होने से अभी काम शुरू नहीं हो पाया, बर्फ पिघलते ही कार्य शुरू कर दिया जाएगा। मुख्य सचिव ने बताया कि मंदाकिनी और सरस्वती नदियों के संगम स्थल से मंदिर तक 270 मीटर तक जमा 12 फीट मलबा हटा दिया गया है। मंदिर तक 50 फीट चौड़ाई का मार्ग निर्माणाधीन है। 24 भागों में बंटे इस मार्ग के 20 पैनल में सतह के कार्य पूरे हो चुके हैं।  उन्होंने बताया कि आदि शंकराचार्य कुटीर एवं संग्रहालय निर्माण का प्रारूप तैयार कर लिया गया है। गरुड़चट्टी से श्री केदारनाथ 3.5 किमी पैदल मार्ग पुनर्निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। इसमें 1.6 किमी का कार्य पूर्ण हो गया है। गौरीकुंड से लिंचौली होते हुए श्री केदारनाथ मार्ग के चौड़ीकरण और सुधारीकरण का कार्य चल रहा है। सिंह ने बताया कि केदारनाथ में हिमस्खलन और भूस्खलन से बचाव के लिए 300 मीटर में बैरियर और ड्रेनेज का निर्माण चल रहा है। उन्होंने अगले तीन महीने में कार्य पूरा होने का भरोसा दिया। मोदी बीच-बीच में मुख्य सचिव को कुछ सुझाव भी देते रहे। अपराह्न पौने चार बजे ड्रोन ने सोनप्रयाग से उड़ान भरी। लगभग 20 मिनट में ड्रोन केदारनाथ पहुंच गया। इस दौरान वहां मौसम साफ रहा, हालांकि ड्रोन के ऊपर-नीचे की लोकेशन बदलने से कई बार मौके की तस्वीरें साफ नजर नहीं आई।  मोदी ड्रोन के जरिए सरस्वती व मंदाकिनी नदियों के बाढ़ सुरक्षा व घाटों का निर्माण, मंदिर का चबूतरा और पीछे की सुरक्षा दीवार और अन्य निर्माण कार्यों का जायजा लिया। जब ड्रोन केदारनाथ धाम से गुजरा, उस वक्त भी वहां तेजी से निर्माण कार्य चल रहे थे।

Leave A Comment