Breaking News:

व्यंग्यः हर मानुष को पता चल गया है कि मीटू क्या है…. -

Wednesday, October 17, 2018

रामपाल समेत 15 दोषियों को उम्रकैद -

Tuesday, October 16, 2018

वित्त आयोग की बैठक में अहम निर्णय , जानिए खबर -

Tuesday, October 16, 2018

उत्तराखंड : राज्यपाल ने जरूरतमंद बच्चो एवं वृद्धजन के बीच बिताये समय -

Tuesday, October 16, 2018

दशहरा को लेकर डीएम व एसएसपी ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा -

Tuesday, October 16, 2018

सिंधु, साइना डेनमार्क ओपन बैडमिंटन में भारतीय चुनौती संभालेंगी -

Tuesday, October 16, 2018

उत्तराखंड : निकाय चुनाव का मतदान 18 नवंबर को -

Monday, October 15, 2018

व्यंग्यः कितना दर्द दिया मीटू के टीटू ने…..! -

Monday, October 15, 2018

टिहरी गढ़वाल के बंगसील स्कूल में सफाई अभियान की अनोखी पहल -

Monday, October 15, 2018

गडकरी, एम्स डायरेक्टर समेत आठ लोगों के खिलाफ मातृसदन दर्ज कराएगा हत्या का मुकदमा -

Monday, October 15, 2018

साधन विहीन व निर्बल वर्ग के बच्चों को यथा सम्भव पहुंचे सहायता : राज्यपाल -

Monday, October 15, 2018

#MeToo: बॉलिवुड की अभिनेत्रियों ने आरोपियों के साथ काम करने से किया इंकार -

Monday, October 15, 2018

भारतीय टीम ने वेस्ट इंडीज को हराकर हासिल की शानदार जीत -

Monday, October 15, 2018

“मैड” के सपने को मिला नया नेतृत्व -

Sunday, October 14, 2018

देश के लिए डॉ.कलाम का अद्वितीय योगदान रहा : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, October 14, 2018

डिप्रेशन विश्व में हार्ट अटैक के बाद मृत्यु का दूसरा बड़ा कारण -

Sunday, October 14, 2018

रूपातंरण कार्यक्रम सराहनीय ही नहीं अनुकरणीय भीः राज्यपाल -

Sunday, October 14, 2018

केदारनाथ यात्रा : 7 लाख के पार पहुंची दर्शनार्थियों की संख्या -

Sunday, October 14, 2018

“उपहार” का निराश्रित बेटियों की शादी में सराहनीय प्रयास -

Sunday, October 14, 2018

अधिकारी एवं कर्मचारी पूरी निष्ठा व ईमानदारी से करे कार्य : सीएम -

Saturday, October 13, 2018

बहाली की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन का 79वा दिन, जानिये खबर

uk-sheela

देहरादून। यूसैक से निकाले गये कर्मचारियों ने अपनी बहाली की मांग को लेकर धरनास्थल पर अंतरिक्ष उपयोग केन्द्र के निदेशक के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए धरने पर बैठे रहे और कहा कि शीघ्र ही मांगों का निदान नहीं किया गया तो सड़कों पर उतरकर आंदोलन को तेज किया जायेगा। उनका कहना है कि उनके हितों की अनदेखी की जा रही है। यहां धरना स्थल पर यूसैक से निकाले गये कर्मचारी शीला रावत के नेतृत्व में इकटठा हुए और वहां पर उन्होंने अपनी बहाली की मांग को लेकर प्रदर्शन करते हुए धरना दिया। इस अवसर पर शीला रावत का कहना है कि आज उनके धरने को 79वें दिन भी जारी रहा और उनका कहना है कि विभाग में सात वर्ष से निरन्तर कार्यरत महिला व पुरुष कर्मियों को उत्पीड़न कर बाहर करने के निर्णय को वापस लेकर, ससम्मान विभाग में वापसी की जाये और आउट सोर्स पर तैनात सभी कर्मियों की विभाग में स्थाई नियुक्ति प्रदान की जाये। उनका कहना है कि प्रतिनियुक्ति पर तैनात निदेशक एमपीएस बिष्ट पर महिला उत्पीड़न व तानाशाही को लेकर कार्यवाही किये जाने की आवश्यकता है और उच्चाधिकारियों को इसका संज्ञान लेना होगा उनका कहना है कि विभाग में व्याप्त अनियमित्ताओं की निष्पक्ष जांच की जाये और विभाग में महिला उत्पीड़न रोकने के लिए, वूमैन सेल का गठन तत्काल प्रभाव से किया जाये। उनका कहना है कि शीघ्र ही उनकी मांगों का समाधान नहीं किया गया तो आंदोलन को तेज किया जायेगा। उनका कहना है कि लंबे समय से आंदोलन किया जा रहा है लेकिन अभी तक केन्द्र के निदेशक के खिलाफ किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है जो चिंता का विषय है। इस अवसर पर अन्य संगठनों के कार्यकर्ताओं ने आंदोलन को अपना समर्थन दिया। इस अवसर पर धरने पर हटाये गये कर्मचारी व संगठनों के कार्यकर्ता मौजूद थे

Leave A Comment