Breaking News:

जिलाधिकरी मंगेश घिल्डियाल चन्द्रशिला से तुंगनाथ धाम तक की साफ सफाई -

Sunday, September 23, 2018

मुंबई के एक शख्स ने एक ही लड़की की दो बार बचाई जान , जानिए खबर -

Sunday, September 23, 2018

रणवीर-दीपिका को टालनी पड़ी अपनी शादी,जानिए खबर -

Sunday, September 23, 2018

रमेश सिप्पी, शर्मन जोशी ने छात्रों से की खास मुलाकात , जानिये खबर -

Sunday, September 23, 2018

राज्यपाल ने की ‘ज्ञान कुंभ’ की तैयारियों की समीक्षा की -

Saturday, September 22, 2018

यात्री वाहन खाई में पलटा, 13 की मौत -

Saturday, September 22, 2018

ई हेल्थ-सेवा डेशबोर्ड का सीएम ने शुभारम्भ किया -

Saturday, September 22, 2018

मिस उत्तराखंड प्रतियोगिता “फस्ट लुक” आयोजित -

Saturday, September 22, 2018

सीएम ने किया ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान के तहत श्रमदान -

Saturday, September 22, 2018

जल्द नजर आएंगे विराट कोहली बड़े पर्दे,जानिए खबर -

Saturday, September 22, 2018

30 साल से बिना वेतन के संभालते हैं गंगाराम जी ट्रैफिक, जानिए खबर -

Saturday, September 22, 2018

रमेश सिप्पी को भा गई दून की वादियां, उत्तराखंड फिल्म इंडस्ट्री का भविष्य -

Saturday, September 22, 2018

रोटी डे क्लब 23 सितंबर को मनाएगा रोटी दिवस महोत्सव -

Friday, September 21, 2018

शौचालयों के संबंध में कैग की रिपोर्ट पर निदेशक की स्पष्टीकरण , जानिए खबर -

Friday, September 21, 2018

उत्तराखंड : सदन में पटल पर रखी गई कैग की रिपोर्ट -

Friday, September 21, 2018

पर्यटन स्थलों को स्वच्छ रखना सभी की सामूहिक जिम्मेदारीः राज्यपाल -

Friday, September 21, 2018

डीएम मंगेश घिल्डियाल राइंका खेड़ाखाल में जाकर बच्चों को पढ़ाया -

Friday, September 21, 2018

Asia Cup 2018: भारत-पाकिस्तान के बीच फिर होगा मुकाबला, जानिए खबर -

Friday, September 21, 2018

इस साल दो पीढ़ियों ने एक साथ बनाया गणेशोत्सव और मुहर्रम -

Friday, September 21, 2018

निवेशकों की पहली पसंद बन रहा है उत्तराखण्ड -

Thursday, September 20, 2018

भा रही है लोगो को कैदियों द्वारा तैयार किये गये उत्पाद

pac

देहरादून। प्रदर्शनी में देहरादून व हरिद्वार कारागार के स्टाॅल भी लगाये गये हैं जिसमें कैदियों द्वारा तैयार किये गये उत्पाद रखे गये हैं जिसमें दरी, कम्प्यूटर टेबल, कालीन, कार्पेट, फर्नीचर का सामान व गौरेया के लिए लकड़ी का घर आदि इन कैदियों द्वारा तैयार किया गया है। उत्तराखण्ड हथकरघा एवं हस्तशिल्प विकास परिषद एवं विकास आयुक्त (हथकरघा) भारत सरकार द्वारा आयोजित नेशनल हैण्डलूम एक्सपो में छठे दिन देहरादून वासियों का रूझान जयपुरी रजाईयों पर ज्यादा देखने को मिला। यह प्रदर्शनी 13 जनवरी तक चलेगी। राष्ट्रीय हैण्डलूम प्रदर्शनी में परेड ग्राउड में 110 हथकरघा के स्टाॅल लगाये गये हैं जिनमें से एक स्टाॅल राजस्थान के जयपुर का है जो छापोंला हथकरघा वस्त्र उत्पादक सहकारी समिति लि. द्वारा लगाया गया है। यहां पर देहरादूनवासियों को हल्की व सस्ती रजाईयां खरीदने का मौका मिल रहा है ये रजाईयाँ हथकरघा बुनकरों द्वारा तैयार की जाती हैं उसके बाद बाजारों में ग्राहकों के लिए पेश की जाती हैं। छपोंला हथकरधा उत्पादक के कृष्णपाल ने बताया कि इन रजाईयों को सैमल काॅटन व जयपुरी सफेद ऊन के मिश्रण से बनाया जाता है जो कि काफी हल्की व गरम रहती हैं इनमें सिंगल रजाईयों का वजन डेढ़ किलो व डबल बैड रजाई का वजन ढ़ाई किलो तक है। इन रजाईयों की कीमत भी बहुत कम है। रजाईयों के अलावा इस स्टाॅल में बैड सीट, घागरा, चुनी, सूट, साड़ी आदि हथकरघा उत्पादक उपलब्ध हैं।

Leave A Comment