Breaking News:

हेल्प मी वेलफेयर सोसायटी ने गरीबों की मदद किये -

Tuesday, April 7, 2020

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र के विकास कार्यो की ‘समीक्षा’ विधानसभा क्षेत्रो में लाएगी ‘समृद्धता’

uk-cm

देहरादून | उत्तराखंड में अब तक जो भी मुख्यमंत्री बने है उनकी राज्य के प्रति विकास करने की शैली जो भी हो पर वर्तमान सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की मैदानी क्षेत्रो के साथ साथ पहाड़ी क्षेत्रो के हर एक विधानसभा में हो रहे विकास कार्यो की वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा कर कार्य करने की शैली और क्षमता एक उच्च श्रेष्ठाता को दर्शा रहा है इन वाक्यांश का जमीनी प्रमाण राज्य के हर एक एक क्षेत्रो के समस्याओ का निवारण एवं विकास रूपी होने वाले अन्य कार्यो की स्थिति एक वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से चलाये जा रहे समीक्षा अभियान से दिखायी पड़ रही है | मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा चमोली,रूद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, चम्पावत, नैनीताल , अल्मोड़ा एवं बागेश्वर , पौड़ी गढ़वाल के समस्त विधानसभा क्षेत्र, चमोली ,रूद्रप्रयाग टिहरी व उत्तरकाशी, बद्रीनाथ, कर्णप्रयाग एवं केदारनाथ विधानसभा क्षेत्र के साथ साथ अन्य विधानसभा क्षेत्रो के लिए की गई घोषणाओं के प्रगति की समीक्षा की है। विदित हो की बद्रीनाथ विधानसभा की 24 घोषणाओं की समीक्षा की गई। जिसमें से 02 पूर्ण हो चुकी हैं, 19 पर कार्य गतिमान है, शेष पर शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। कर्णप्रयाग विधानसभा में की गई घोषणाओं में से 20 पर कार्य गतिमान है, शेष शीघ्र कार्य शुरू करने के निर्देश दिये गये हैं। केदारनाथ विधानसभा की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने गौरीकुंड में तप्त कुण्ड को उसके पुराने स्वरूप में बनाये जाने की बात कही। ऊखीमठ एवं गुप्तकाशी में पेयजल की समस्याओं के समाधान के लिए सर्वे हो चुका है, डीपीआर बनाई जा रही है। मुख्यमंत्री ने इन पेयजल योजनाओं को प्राथमिकता पर रखने के निर्देश दिये। लदोली में आंगनवाड़ी भवन के निर्माण की कार्यवाही शीघ्र शुरू की जायेगी। बद्रीनाथ विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत बद्रीनाथ एवं गोविन्द घाट में आधुनिक शौचालयों का निर्माण किया जायेगा। यही नहीं सबसे अहम बद्रीनाथ में पेट्रोल पम्प एवं गैस एजेंसी बनाने के लिए शीघ्र एस्टीमेट सीएम ने भेजने को कहा है । कर्णप्रयाग विधानसभा के अन्तर्गत सुनियोजित विकास के लिए गैरसैंण के मास्टर प्लान का कार्य गतिमान है। गैरसैंण में पेयजल की समस्या के हल के लिए झील का निर्माण किया जाना है। समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने लालकुआं के बिन्दुखत्ता में शहीद मोहन नाथ गोस्वामी के नाम पर मिनी स्टेडियम के निर्माण की घोषणा को देरी से क्रियान्वयन व सुस्त प्रक्रिया पर सख्त नाराजगी जताते हुए सम्बन्धित अधिकारियों तेजी से कार्य करने के निर्देश दिए। इस सम्बन्ध में युवा कल्याण विभाग के अधिकारियों द्वारा जानकारी दी गई कि बिन्दुखत्ता में मिनी स्टेडियम निर्माण हेतु भूमि उपलब्ध हो चुकी है तथा वित्तीय एवं प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान किये जाने की कार्यवाही की जा रही है। भीमताल क्षेत्र के विकास कार्यो की समीक्षा के भीमताल क्षेत्र में सैनिक स्कूल घोड़ाखाल को राज्य सरकार द्वारा प्रतिवर्ष दी जाने वाली अनुदान राशि को 3 करोड़ से बढ़ाकर 5 करोड़ रूपये करने की घोषणा के सम्बन्ध में विद्यालयी शिक्षा विभाग द्वारा 3.5 करोड़ रूपये का प्रावधान कर लिया गया है। शेष 1.5 करोड़ रूपये का प्रावधान प्रथम अनुपूरक मांग के माध्यम से कर लिया जाएगा। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने सैनिक स्कूल घोड़ाखाल में उत्तराखण्ड राज्य के छात्रों के भोजन भत्ते की बढ़ी हुई राशि ( 17.50 रूपये से बढ़ाकर 36.00 रूपये ) में देरी के मामले को गम्भीरता से लेते हुए शिक्षा विभाग के अधिकारियो को लापरवाही के लिए फटकारा तथा इस मामले को शीघ्र निपटाने के निर्देश दिए। नैनीताल में मल्टी स्टोरी पार्किंग के निमार्ण की योजना में देरी पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने इस मामले की थर्ड पार्टी द्वारा जांच करवाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारियों की लापरवाही बिल्कुल बर्दाश्त नही की जाएगी। इसी क्रम में 321 लाख रूपये की लागत से डा0 सुशीला तिवारी तिवारी राजकीय चिकित्सालय के सामने के मार्ग के चैड़ीकरण, पार्किंग एवं सौन्दर्यीकरण के कार्यो पर कार्यवाही गतिमान है। इस पर कार्यवाही गतिमान है। 64.95 लाख रूपये की लागत से बनने वाले हल्द्वानी जेल चौराहा , म्यूजिकल फब्बारे के निमार्ण के सम्बन्ध में प्रस्ताव प्राप्त हो गया है मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने धारचूला के सोसा में मिनी स्टेडियम के निर्माण धीमी प्रगति के कारणों की जानकारी लेते हुए जिला स्तरीय अधिकारियों को स्पष्ट किया कि शासन को भेजी जाने वाली आख्या ठोस कार्यवाही व फील्ड निरीक्षण पर ही आधारित हो। अधिकारी अपने दायित्वों को गम्भीरता से ले। उन्होंने सचिव युवा कल्याण को निर्देश दिए कि कार्य में लापरवाही करने वाले अधिकारियों का जवाब तलब किया जाय। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने मुनस्यारी को कृषि जैविक हब के रूप में विकसित करने, स्थानीय प्रजाति के पौधों से बने उत्पादों को प्रोत्साहित करने, ऐरोमेटिक क्लस्टर विकसित करने तथा स्थानीय पौधो से बनी पूजा सामग्री के उत्पादन की कार्ययोजना पर गम्भीरता से कार्य करने के निर्देश दिए है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने चम्पावत व राज्य में अन्य पर्वतीय क्षेत्रों में ट्रेक रूटस विकसित करने व अन्य पर्यटन गतिविधयों को बढ़ावा करने हेतु पर्यटन व वन विभाग के मध्य उचित समन्वय पर बल दिया। चम्पावत में गौडी नदी के पुनर्जीवीकरण की स्थिति का संज्ञान भी लिया। जनपद चम्पावत में चाय फैक्ट्री की स्थापना के लिए 482.23 लाख की धनराशि का प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। जनपद मुख्यालय में स्वच्छ भारत मिशन के तहत सौन्दर्यीकरण का कार्य गतिमान है। जनपद में नाबार्ड के तहत छोटी-छोटी झीलों का निर्माण किया जायेगा। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर पार्क व प्रेरणा केन्द्र बेरीनाग के निर्माण में देरी का संज्ञान लेते हुए अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि घोषणाओं को प्राथमिकता के साथ क्रियान्वित किया जाय। अधिकारियों ने जानकारी दी कि अल्मोड़ा अस्कोट बेेरीनाग मोटर मार्ग में राईआगर सेराघाट मोटर मार्ग के मध्य विभिन्न स्थानों पर रफटों का निमार्ण कार्य मार्च 2019 तक पूरा हो जाएगा। सानीखेत -छडौली मोटर मार्ग पर दलदलीय क्षेत्र की सुधारीकरण का कार्य पूरा हो चुका है। गणाई वासुकीनाग पेयजल योजनाओं हेतु सर्वेक्षण आरम्भ हो चुका है। बागेश्वर में स्वामी विवेकानन्द जी की निजी सम्पति को भी सरकार द्वारा सरंक्षण दिया जाना चाहिए। अधिकारियों द्वारा जानकारी दी गई कि लोहाघाट में पशु सेवा केन्द्र ईजडा बाराकोअ के उच्चीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है। कोलीडेक झील निर्माण हेतु प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति दी जा चुकी है तथा 8 करोड़ रूपये की धनराशि जारी हो चुकी है। लोहाघाट के सुनियोजित विकास के लिए मास्टर प्लान हेतु सर्वेक्षण का कार्य चल रहा है। विकासखण्ड पाटी में कोरा नदी लिफट पेयजल योजना की डीपीआर तैयार है तथा योजना को आगामी 15 सितम्बर तक अनुमोदन मिल जाएगा। डीडीहाट में हैलीपेड निर्माण हेतु जमीन मिल गई है। डीजीसीए से क्लियेरेन्स प्राप्त करने की प्रक्रिया आरम्भ हो रही है। डिगरा मुवानी कलौन गाड पेयजल योजना की डीपीआर बन गई है। 5 अगस्त तक इसे अनुमोदन प्राप्त हो जाएगा। मडमाले दौबास सडक से चुर्चु-कूनकू मोटर मार्ग निर्माण का आकलन शासन में पहुंच गया है। गर्खा लिफट पेयजल योजना की डीपीआर तैयार है। कठपतिया दोबांस मोटर मार्ग से बारसो तक मोटर मार्ग हेतु सर्वे पूरा हो चुका है। बुंगाछीना से नगरोडा मोटर मार्ग, लछैर से गाडगांव तक मोटर मार्ग के डामरीकरण का कार्य मार्च 2019 तक पूरा हो जाएगा। डीडीहाट पेयजल योजना 65 प्रतिशत पूरी हो चुकी है तथा मार्च 2019 तक यह पूरी हो जाएगी पिथौरागढ़ में पार्किंग निर्माण के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि पहाड़ी क्षेत्रों में पार्किंग प्रबन्धन को गम्भीरता से लिया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें नीतिगत निर्णय लेने होंगे। पार्किंग आदि निर्माण कार्य होने के बाद इन स्थानों को प्रभावी ढंग से संचालित किया जाए। संचालन करने वाली संस्थाओं का प्रबन्धन कुशल होना चाहिए। इन स्थानों को निर्माण के बाद स्थानीय संस्थाओं जैसे ग्राम पंचायत या नगर पंचायत आदि को भी दिया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने रई नदी के पुनर्जीवीकरण के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी ली। जिला प्रशासन ने बताया कि पहले चरण में रई नदी में पहले चरण में 4500 पौधे रोपे गए। पौधों की अच्छी देख रेख की जा रही है। मुख्यमंत्री ने पिथौरागढ़ में किले में लाइट एण्ड साउण्ड सिस्टम लगाने, ऐतिहासिक म्यूजियम बनाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि पिथौरागढ़ नर्सिंग कालेज जिसकी कक्षाएं हल्द्वानी से संचालित हो रही है का कार्य शीघ््रा पूर्ण किया जाय। सचिव स्वास्थ्य ने जानकारी दी कि बेस चिकित्सालय पिथौरागढ के अधूरे निर्माण कार्य आगामी मार्च तक पूरा हो जाएगा। पिथौरागढ़ बी0डी0 पाण्डेय जिला चिकित्सालय में 50 अतिरिक्त शैया की योजना जिसकी लागत 5.55 करोड़ रूपये है को एक महीने मे अनुमोदन मिल जाएगा। मार्च 2019 तक योजना को पूर्ण कर दिया जाएगा। पिथौरागढ़ जिले में वर्ष 2018 में कुल नियमित 27 डाॅक्टर तैनात कर दिए गए है। जिसके सापेक्ष 24 चिकित्सकों ने योगदान कर लिया है। संविदा के माध्यम से 04 चिकित्सकों की नियुक्ति की गयी है। मुख्यमंत्री जी की डाॅक्टरों की नियुक्ति के सम्बन्ध में घोषणा पूरी हो चुकी है। पिथौरागढ़ में औद्योगिक आस्थान के विकास के सम्बन्ध में जीओ जारी हो गया है। 2.8 करोड़ रूपये के आकलन के सापेक्ष 83 लाख रूपये की धनराशि जारी हो चुकी है।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा अल्मोड़ा ,सोमेश्वर,कपकोट ,बागेश्वर, द्वाराहाट,सल्ट,थराली,रूद्रप्रयाग,कोटद्वार,लैंसडौन, चैबट्टाखाल ,श्रीनगर ,यमकेश्वर,पौड़ी,घनसाली,देवप्रयाग नरेन्द्रनगर, प्रतापनगर,टिहरी,यमुनोत्री, गंगोत्री, पुरोला के अनेक विकास कार्यो की समीक्षा कर जो भी विकास कार्य रुके हुए है उनको अति शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिए साथ ही साथ जनता की समस्याओं को भी जल्द से जल्द दूर करने को लेकर अधिकारियों को निर्देशित किये | इन सभी क्षेत्रो में समीक्षा पर उसका परिणाम सुखद दिख रहा है तो कही सुखद दिखना अभी बाकी है ।

Leave A Comment