Breaking News:

दर – दर भटक रही है अपने बच्चे के साथ यह महिला, जानिए खबर -

Thursday, January 18, 2018

बिग बॉस के इस प्रतिभागी का चेहरा सर्जरी से हुआ खराब, जानिए है कौन -

Thursday, January 18, 2018

प्रदेश में भू कानून में परिवर्तन की मांग को लेकर “हम” का धरना -

Thursday, January 18, 2018

शासकीय योजनाओं का हो व्यापक प्रचार-प्रसार : डाॅ.पंकज कुमार पाण्डेय -

Thursday, January 18, 2018

केंद्रीय वित्तमंत्री के समक्ष सीएम ने रखी ग्रीन बोनस की मांग -

Thursday, January 18, 2018

कांटों वाले बाबा को हर कोई देख है दंग … -

Wednesday, January 17, 2018

फिल्म पद्मावत फिर पहुंची एक बार कोर्ट, जानिए खबर -

Wednesday, January 17, 2018

बालिकाओ ने जूडो, बैडमिंटन, फुटबाल, वालीबाल, बाक्सिंग में दिखाई दम -

Wednesday, January 17, 2018

उत्तराखंड के उत्पादों का एक ही ब्रांड नेम होना चाहिए : उत्पल कुमार सिंह -

Wednesday, January 17, 2018

पर्वतीय राज्यों को मिले 2 प्रतिशत ग्रीन बोनस : सीएम -

Wednesday, January 17, 2018

सिर दर्द हो तो करे यह उपाय …. -

Monday, January 15, 2018

उत्तरायणी महोत्सव में रंगारंग कार्यक्रमों की धूम -

Monday, January 15, 2018

सौर ऊर्जा से चलने वाली कार का दिया प्रस्तुतीकरण -

Monday, January 15, 2018

सीएम ने ईको फ्रेण्डली किल वेस्ट मशीन का किया उद्घाटन -

Monday, January 15, 2018

औद्योगीकरण को बढ़ावा देने को लेकर प्रदेश में सिंगल विंडो सिस्टम लागू -

Monday, January 15, 2018

युवा क्रिकेटर के लिए भारतीय तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने मांगी मदद -

Sunday, January 14, 2018

कक्षा सात की बालिका ने प्रधानमंत्री के लिए लिखी चिट्ठी, जानिए खबर -

Sunday, January 14, 2018

हरियाली डेवलपमेंट फाउंडेशन ने की गरीब, अनाथ एवं बेसहारा लोगो की मदद -

Sunday, January 14, 2018

रेडिमेड वस्त्रों के 670 सेंटर स्थापित किये जायेंगेः सीएम -

Sunday, January 14, 2018

सीएम ने 14 विकास योजनाओं का किया शिलान्यास -

Saturday, January 13, 2018

मैड संस्था ने नगर निगम को सुझाया साफ़ सफाई रूपी “रास्ते”

MAD

देहरादून | देहरादून की शिक्षित छात्रों के संगठन मैड संस्था ने अपने साप्ताहिक कार्यक्रम के तहत नेशनल रोड के मध्य में स्थित अनियंत्रित सार्वजनिक कूड़ेदान के गंदगी की फिर की सफाई। संस्था के आधा दर्जन सदस्य एवं स्वयंसेवी पहले एश्लेहॉल पहुंचकर एकत्रित हुए । वहां से वह साथ में नेशविला रोड के कूड़ाग्रस्त क्षेत्र के लिए निकले। वहां पहुंचकर संस्था के सदस्यों ने जब हालात का जायजा लिया तो पाया कि कूड़े में मुख्य तौर पर घर का कूड़ा जैसे सब्जियां, फल,पॉलिथीन ,प्लास्टिक, रेपर इत्यादि शामिल है। मुआइना करने के बाद संस्था के सदस्य तुरंत कार्य में लग गए और ग्लब्स ओर मास्क लगाकर कूड़े की सफाई में जुट गए। कूड़े को एकत्रित करके उस क्षेत्र में पहले से ही मौजूद कूड़ेदान में डाला गया। इसके साथ-साथ सदस्यों ने जागरुकता अभियान भी चलाया ताकि इस बात को भी सुनियोजित किया जा सके कि मात्र एक सफाई अभियान से ही लोग संतुष्ट ना हों और सफाई को अपने रोजाना जिंदगी की दिनचर्या में शामिल करें और उसकी आदत बना ले। इसी के तहत मैड संस्था ने कुछ स्थानीय लोगों को भी प्रोत्साहित किया कि वह भी संस्था के साथ सफाई अभियान में जुड़ें। अच्छी बात यह रही कि कुछ स्थानीय लोगों ने इसका ना सिर्फ स्वागत किया बल्कि वह खुद ग्लब्स पहनकर कूद अभियान में शामिल हो गए ओर अंत तक सफाई करते रहे। साथ साथ कुछ लोगों ने कुछ समय तक ही सफाई करी लेकिन उन्होंने उसकी प्रथा बना दी कि जहां एक स्थानीय निवासी जाता गया वही दूसरा आकर उसकी जगह लेने लगा और सफाई अभियान निरंतरता से आगे बढ़ता रहा ।स्थानीय लोगो को इस तरीके से अभियान मे शामिल देखकर मैड के सदस्यों मे जोश आया और सफाई अभियान तभी संपन्न हुआ जब उस क्षेत्र को पूरी तरह साफ कर दिया गया ।बीच-बीच में कूड़ा निस्तारित करने जो भी लोग आए जहां मोहल्ले के सफाई कर्मचारी आये,संस्था ने इसका खासा ध्यान रखा कि उन्होंने अपना कूड़ा कूड़ेदान के अंदर ही डाला और सड़क पर नही फेंका। गौरतलब है कि मैड संस्था ने नीती नियोजन के स्तर पर नगर निगम से अपनी वार्ता में सफाई व्यवस्था के ऊपर एक 45 पन्नों की शोध रिपोर्ट नगर आयुक्त जोगदंडे को सौंपी है।उस रिपोर्ट में खाली पड़े प्लाट से लेकर कई ऐसी जगहों और समस्याओं का जिक्र है जिसकी वजह से देहरादून स्वच्छ भारत सर्वेक्षण में पिछड़ता रहता है । उस रिपोर्ट में नैशविला रोड के कूड़ेदान का भी जिक्र है।मैड ने न सिर्फ वह रिपोर्ट शासन को सोंपी है बल्कि उस रिपोर्ट के बारे मे दो बैठकें भी वह मुख्य नगर आयुक्त से वह कर चुका है कि उस पर निगम क्या कार्यवाही लेने की सोच रहा है ।इसमें नेशविला रोड में स्थित कूड़ेदान के आसपास हो रहे कूड़े का भी जिक्र है और नगर निगम ने मैड को आस्वस्थ किया है कि वह इस समस्या की गम्भीरता से लेगा ओर इसके निदान हेतु अग्रसर होगा । मैड संस्था की और से शुभवि गुप्ता, शरद महेश्वरि, आदर्श त्रिपाथि, दक्श रावत समेत अन्य सदस्य मौजूद रहे। स्थानिय निवासि रितेश कुमार एवम लल्लन सिंह ने भी इस अभियान में भरपूर योगदान दिया |

Leave A Comment