Breaking News:

गैरसैण बनेगी ई-विधानसभा : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1215 , ठीक हुए मरीजो की संख्या हुई 344 -

Friday, June 5, 2020

“उत्तराखंड की शान भैजी विरेन्द्र सिंह रावत” ऑडियो वीडियो का हुआ शुभारम्भ -

Friday, June 5, 2020

डेंगू से बचाव के लिए जागरूकता जरूरी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1199, देहरादून में 15 नए मामले मिले -

Friday, June 5, 2020

7 जून से “एसपीओ” द्वारा राष्ट्रीय ऑनलाइन योगा प्रतियोगिता का आयोजन -

Friday, June 5, 2020

उत्तराखंड : 10वीं च 12वीं की शेष परीक्षाएं 25 जून से पहले होंगी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1153 आज 68 नए मरीज मिले -

Thursday, June 4, 2020

पांच जून को अधिकांश जगह बारिश की संभावना -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1145 -

Thursday, June 4, 2020

जागरूकता और सख्ती पर विशेष ध्यान हो : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, June 4, 2020

दुःखद : बॉलीवुड कास्टिंग निदेशक का निधन -

Thursday, June 4, 2020

वक्त का फेर : चैम्पियन तीरंदाज सड़क पर बेच रही सब्जी -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

शहर से देहात तक कांवड़ मेले की धूम ,जानिए ख़बर

हरिद्वार । शहर से लेकर देहात हर और कांवड़ मेले की रंगत छायी हुई है। विभिन्न सामाजिक संस्थाओं द्वारा जगह-जगह शिविर का आयोजन कर कांवड़ियों की सेवा के लिए भण्डारे आदि लगाए गए हैं। शिविरों में भोजन, जलपान के साथ चिकित्सा सुविधा भी कांवड़ियों को उपलब्ध करायी जा रही है। शिविरों में स्थानीय युवा कांवड़ियों की सेवा करने में जुटे हुए हैं। इसके अलावा हाईवे से होकर गुजरने वाली बड़ी व सजावटी कांवड़ों को देखने के लिए बड़ी संख्या में स्थानीय लाग हाईवे पर जुट रहे हैं। शाम होते ही शंकराचार्य चैक, ऋषिकुल पुल, प्रेमनगर पुल, श्रद्धानन्द चैक सहित पूरे हाईवे पर कांवड़ लेकर लौट रहे शिवभक्तों को देखने के लिए शहर व ग्रामीण क्षेत्र के लोग उमड़ रहे हैं। कांवड़ देखने के लिए आने वालों में सर्वाधिक संख्या महिलाओं व बच्चों की होती है। देर रात तक हाईवे पर कांवड़ देखने वाले लोगों की भारी भीड़ जुट रही है। तिरंगा लगी विशाल कावंड़, भोलेनाथ की प्रतिमा लगी कांवड़ के साथ नाचते गाते कांवड़िएं, विभिन्न प्रकार के मुखौटे पहने कांवड़ियों के समूह आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं।

Leave A Comment