Breaking News:

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में करें अब आनलाईन आवेदन -

Tuesday, June 2, 2020

10 वर्षीय आन्या ने अपने गुल्लक के पैसे देकर मजदूर का किया मदद -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 999 हुई, 243 मरीज हुए ठीक -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

नही रहे मशहूर संगीतकार वाजिद खान -

Monday, June 1, 2020

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

कोरोंना से बचे : उत्तराखंड में मरीजो की संख्या 802 हुई -

Sunday, May 31, 2020

उत्तराखंड : 1152 लोगों को दून से विशेष ट्रेन से बेतिया बिहार भेजा गया -

Sunday, May 31, 2020

सीट आवंटन को लेकर छात्रों ने किया हंगामा, जानिए खबर

देहरादून । उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय का विवादों से गहरा नाता रहा है। विश्वविद्यालय प्रबंधन से जुड़े अधिकारियों पर कभी भ्रष्टाचार के आरोप लगे तो कभी विश्वविद्यालय में अव्यवस्थाओं के चलते कैंपस चर्चाओं में रहा। इस बार मामला आयुर्वेद यूजी काउंसलिंग से जुड़ा है। दरअसल विश्वविद्यालय में 19 से 25 सितंबर के बीच आयुष यूजी का मॉपअप राउंड आयोजित हुआ। इसमें एक दिन पहले ही 24 सितंबर को सीट का आवंटन कर दिया गया। इन सीटों में 11 आरक्षित श्रेणी की सीटों से सामान्य में कन्वर्ट हुई सीटें भी शामिल थीं। बताया गया कि इन 11 सीटों पर आवंटन मिलने के बाद जब अभिभावक और छात्र इसको लेकर अलॉटमेंट लेटर लेने पहुंचे तो दिनभर इंतजार करने के बावजूद भी नहीं लेटर नहीं दिया गया। विश्वविद्यालय प्रबंधन की तरफ से कहा गया कि निजी कॉलेजों में सीटें रिक्त रहने के कारण इन 11 सीटों को एक बार फिर आरक्षित कोटे में शामिल कर फिर से काउंसलिंग करवाई जाएगी। प्रबंधन के इस फैसले के बाद छात्रों और अभिभावकों ने हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद विश्वविद्यालय के कुलपति डॉक्टर सुनील जोशी कैंपस में पहुंचे और काउंसलिंग बोर्ड के सदस्यों से बातचीत करने के बाद इन सभी छात्रों को सीट अलॉटमेंट का लेटर दे दिया गया, तब जाकर कहीं मामला शांत हुआ।

Leave A Comment