Breaking News:

देहरादून में शुरू हुआ सैनिटाइजेशन का कार्य, जानिए खबर -

Saturday, June 6, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1303 -

Saturday, June 6, 2020

सोशल मीडिया पर कार्तिक आर्यन की मां की चर्चा , जानिए खबर -

Saturday, June 6, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1245 , जिनमे 422 मरीज हुए ठीक -

Saturday, June 6, 2020

नेक कार्य : सोनू सूद ने जहाज बुक कर उत्तराखंड के प्रवासियों को घर भेजा -

Saturday, June 6, 2020

गैरसैण बनेगी ई-विधानसभा : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1215 , ठीक हुए मरीजो की संख्या हुई 344 -

Friday, June 5, 2020

“उत्तराखंड की शान भैजी विरेन्द्र सिंह रावत” ऑडियो वीडियो का हुआ शुभारम्भ -

Friday, June 5, 2020

डेंगू से बचाव के लिए जागरूकता जरूरी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1199, देहरादून में 15 नए मामले मिले -

Friday, June 5, 2020

7 जून से “एसपीओ” द्वारा राष्ट्रीय ऑनलाइन योगा प्रतियोगिता का आयोजन -

Friday, June 5, 2020

उत्तराखंड : 10वीं च 12वीं की शेष परीक्षाएं 25 जून से पहले होंगी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1153 आज 68 नए मरीज मिले -

Thursday, June 4, 2020

पांच जून को अधिकांश जगह बारिश की संभावना -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1145 -

Thursday, June 4, 2020

जागरूकता और सख्ती पर विशेष ध्यान हो : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, June 4, 2020

दुःखद : बॉलीवुड कास्टिंग निदेशक का निधन -

Thursday, June 4, 2020

वक्त का फेर : चैम्पियन तीरंदाज सड़क पर बेच रही सब्जी -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

2500 बच्चियों को शिक्षा के लिए 90 दिन में तय करेंगे 6 हजार किमी

pahal

पुणे | पेशे से बिजनसमैन 37 साल के राणा उप्पलापति का कहना है कि वह जन्म से ही आशावादी हैं। खासकर जब वह किसी बेहद खास मुहिम के लिए कुछ कर रहे हों। उनका विरोध करना मुश्किल है, यह मुहिम है बेटियों की शिक्षा। 5 सितंबर को राणा ने 6 हजार किमी तक स्केटिंग अभियान शुरू किया है जो 90 दिन में पूरी होगी। इस दौरान उनका कारवां भारत के 20 मुख्य शहरों से होकर गुजरेगा जिसमें 4 मेट्रो सिटी भी शामिल हैं। राणा ने अपनी यात्रा बेंगलुरु से शुरू की है और 10 दिन में 800 किमी यात्रा पूरी कर ली है। रविवार को वह पुणे पहुंचे। वह इस ट्रिप के जरिए 25 हजार बच्चियों के लिए 9 करोड़ का फंड इकट्ठा करेंगे। उन्होंने बताया, ‘मैं प्रफेशनल स्केटर नहीं हूं। पहले चरण ने मुझे काफी कुछ सिखाया है। बेंगलुरु से पुणे तक का रूट थोड़ा मुश्किल था। घाटों पर मैंने 10 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चढ़ाई की लेकिन ढलान पर स्पीड तेज (60 किमी प्रति घंटा) हो गई।’ जब पूछा गया कि उन्होंने स्केटिंग क्यों चुना तो वह कहते हैं, ‘हम लोगों का ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं। अब लोग साइकलिस्ट या वॉकर पर इतना ध्यान नहीं देते हैं।’ 6 साल के बेटे के पिता राणा को गर्ल एजुकेशन को बढ़ावा देने के लिए किस बात ने मोटिवेट किया। इस पर वह कहते हैं, ‘अगर एक लड़की शिक्षित है तो पूरी पीढ़ी शिक्षित होगी। शिक्षा का अभाव सिर्फ करियर में ही बाधा नहीं पहुंचाता बल्कि अगर एक लड़की अशिक्षित है तो वह स्वास्थ्य के मुद्दे, सफाई और प्रजनन के बारे में नहीं जान सकेगी।’

Leave A Comment